Connect with us

पहाड़ों से गिरते मलबे को रोकने के लिए मां भगवती की शरण में पहुंचे इंजीनयर,पूजा कर लगाई गुहार…

चंपावत

पहाड़ों से गिरते मलबे को रोकने के लिए मां भगवती की शरण में पहुंचे इंजीनयर,पूजा कर लगाई गुहार…

चंपावत: उत्तराखंड में बारिश के कहर के कारण जगह जगह सड़के बंद है। पहाड़ों से पत्थर बरस रहें हैं। जिस कारण विभाग को सड़कें खोलने के लिए कई तरह की दुश्वारियों का सामना करना पड़ रहा है। टनकपुर-पिथौरागढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग 11 दिन से बंद पड़ा है। ऐसे में अब एनएच को खोलने और लगातार गिर रहे मलबे को रोकने के लिए अब भगवान की शरण लेनी पड़ी है। ग्रामीणों की सलाह पर एनएच के अधिकारियों ने गुरुवार को पूजा अर्चना कर लगातार गिर रहे मलबे को रोकने की कामना की, ताकि सड़क को शीघ्र खोला जा सके।

यह भी पढ़ें 👉  सुनहरा मौका: उत्तराखंड में 10वीं से लेकर ग्रेजुएट युवाओं के लिए UKSSSC ने निकाली भर्ती, जानिए पूरी डिटेल्स...

बता दें कि स्वाला के पास एनएच खंड के अधिकारियों ने कार्यस्थल पर ही सांकेतिक पूजा-अर्चना कर काम में आ रहे व्यवधान को दूर करने की प्रार्थना की। पूजा में ग्रामीण और एनएच के कर्मचारी शामिल रहे। अभियंता प्रकाश चंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि स्वाला में मां भगवती का प्राचीन मंदिर है। माना जाता है कि देवी एनएच पर होने वाली दुर्घटनाओं को रोकती है और यात्रियों की यात्रा मंगलमय करती है। इसी मान्यता के आधार पर लोगों की भावनाओं की कद्र करते हुए पूजा अर्चना करवाई गई। स्थानीय लोगों ने विश्वास व्यक्त किया है कि पूजा के बाद निश्चित ही मलबा गिरना बंद होगा और सड़क आवागमन के लिए सुचारू हो जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में यहां लगी घर में खड़ी स्कार्पियो में अचानक लगी आग, धूं-धूं कर सब कुछ हो गया खाक...

गौरतलब है कि स्वाला के पास पहाड़ी दरकने के बाद से ही लगातार पत्थर और मलबा गिर रहा है। ग्यारह दिन की अवधि में कोई भी ऐसा वक्त नहीं रहा जब मामूली अंतराल के बाद पत्थर और बोल्डर नहीं गिरे हों। इससे जहां सड़क खोलने के काम में बाधा उत्पन्न हो रही है, वहीं जेसीबी आपरेटरों और मजदूरों की जान के लिए भी खतरा बना हुआ है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में यहां लगी घर में खड़ी स्कार्पियो में अचानक लगी आग, धूं-धूं कर सब कुछ हो गया खाक...

Latest News -
Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in चंपावत

Advertisement

उत्तराखंड

उत्तराखंड
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

देश

देश
Our YouTube Channel

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

Like Facebook Page

To Top
0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap